Wednesday, 26 December 2012

एक आग्रह ..

"पुलिस वालों से जनता का एक आग्रह, क्या होगा स्वीकार ,
कुछ शर्म आ जाये शायद कर दो सबके चेहरे सरे आम ..
समाज में कुत्सित लोगों के चेहरों को पहचान करें बहिष्कार , 
क्यूँ छिपाते हों बतलाओ तो उनके नाम और पहचान ..
गर डर होता है बदनामी का क्यूँ करते हों फिर ये दुर्व्यवहार ,
तिरिस्कार मिलेगा जग में फिर शायद न करे ऐसा काम "..- विजयलक्ष्मी

No comments:

Post a comment